Site icon Buziness Bytes Hindi

BCCI ने ख़त्म किया महिला और पुरुषों के बीच भेदभाव, सबको मिलेगी एक जैसी फीस

BCCI

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आज महिला क्रिकेटर्स के एक बहुत बड़ा एलान किया है. BCCI के फैसले के मुताबिक अबसे महिला और पुरुष क्रिकेटर्स को एक जैसी मैच फीस दी जाएगी, इससे पहले महिला क्रिकेटर्स को काफी कम मैच फीस मिलती थी, BCCI फैसले को महिला और पुरुषों के बीच भेदभाव को ख़त्म करने के प्रयास के तौर पर देख जा रहा है, महिला क्रिकेटर्स की और से बोर्ड के इस फैसले का ज़ोरदार स्वागत किया गया है, लोगों ने इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि देर आयद दुरुस्त आयद.

इस फैसले जानकारी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सचिव जय शाह ने दी है. जय शाह ने कहा कि बीसीसीआई ने इस भेदभाव को दूर करने के लिए पहला कदम उठाया है. अब अनुबंधित महिला क्रिकेटर्स के लिए वेतन इक्विटी पॉलिसी लागू होने जा रही है.जय शाह ने कहा कि हम अब लैंगिक समानता के एक नए युग में एंट्री कर रहे हैं. अब से महिलाओं को भी पुरुष के बराबर ही मैच फीस मिलेगी. बता दें कि टेस्ट क्रिकेट में एक मैच के लिए खिलाडियों को मैच फीस के रूप में 15 लाख रुपए मिलते हैं जबकि ODI के लिए 6 लाख रुपए दिए जाते हैं, जबकि टी 20आई के लिए तीन लाख रूपये मिलते हैं. अब यही मैच फीस महिला क्रिकेटर्स को भी मिलेगी।

जय शाह ने इस फैसले का समर्थन करने के लिए अपेक्स काउंसिल का शुक्रिया अदा किया। बता दें कि अब तक सीनियर महिला क्रिकेटर्स को प्रतिदिन मैच के लिए 20 हजार रुपये फीस के तौर मिलते थे. जबकि इतना पैसा अंडर-19 में पुरुष क्रिकेटर को मिलता है. वहीँ सीनियर पुरुष खिलाडियों को मैच फीस के तौर पर औसतन 60 हजार रुपए मिलते हैं. 2022 से पहले महिला क्रिकेटरों को मैच फीस के रूप में सिर्फ 12,500 रुपये दिए जाते थे.

Exit mobile version