Site icon Buziness Bytes Hindi

Ahmedabad test: तीसरा दिन भारत के नाम, गिल ने जड़ा शतक

gill

बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के अंतर्गत खेला जाने वाला अहमदाबाद टेस्ट दो दिन ऑस्ट्रेलिया के नाम होने के बाद तीसरा दिन भारतीय टीम के नाम रहा। शुभमन गिल ने शानदार शतक ठोका तो बाक़ी बल्लेबाज़ों ने भी उपयोगी योगदान दिए। पिच की बात करें तो पिच में अभी भी स्पिनरों को कुछ ख़ास नज़र नहीं आ रहा है। भारत अभी भी पहली पारी में 191 रन पीछे है और उन्हें चौथी पारी में भी खेलना है, ऐसे में देखना होगा कि चौथे दिन वह किस अप्रोच से बल्लेबाज़ी करेंगे। क्रीज़ पर इस समय विराट कोहली 59 रन बनाकर मौजूद हैं, उनके साथ रविंद्र जडेजा 16 रन बनाकर खेल रहे हैं.

नतीजे की उम्मीदें कम

मैच का नतीजा दो ही सूरत में निकल सकता है या तो कल टीम इंडिया का कोलैप्स हो जाय या फिर टीम इंडिया कल के खेल में 199 रनों की बढ़त उतारने के बाद डेढ़ दो सौ रनों की बढ़त ले ले और फिर आखरी दिन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों की परीक्षा ले. हालाँकि पिच को देखते हुए यह सब कुछ नामुमकिन सी बात लगती है. कहा जा सकता है कि यह टेस्ट ड्रा की तरफ बढ़ता जा रहा है.

विराट से उम्मीदें

टीम के कल के स्कोर में 38 रन और जोड़कर कप्तान रोहित शर्मा पहले विकेट के रूप में आउट हुए. उन्हें मैथ्यू कुनमन ने लाबुषाने के हाथों कैच आउट कराया। रोहित ने 35 रन बनाये। इसके बाद सुभमण गिल और पुजारा के बीच 113 रनों की लम्बी साझेदारी हुई. 187 के स्कोर पर पुजारा टॉड मर्फी की गेंद पर 42 रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर पगबाधा हो गए. इस बीच गिल अपना दूसरा टेस्ट शतक पूरा कर चुके थे. भारत का स्कोर जब 245 रन पर पहुंचा तब लॉयन ने गिल को उनके 128 के स्कोर पर LBW आउट किया। यह आज के दिन गिरने वाला आखरी विकेट था. इसके बाद विराट और रविंद्र जडेजा ने संभल कर खेलते हुए स्कोर को 289 तक पहुंचा दिया।

बल्लेबाज़ों के लिए स्वर्ग है अहमदाबाद की पिच

पिछले तीन टेस्ट मैचों से एकदम उलट अहमदाबाद की यह पिच बल्लेबाज़ी के लिए काफी आसान साबित हो रही है. तीन दिन बीत चुके हैं पर अभी तक पिच में ऐसा कोई घुमाव नहीं दिख रहा है जो बल्लेबाज़ों को परेशान कर सके. अब देखना है कि बचे हुए दो दिनों में इस पिच से गेंदबाज़ों के लिए क्या कुछ निकल कर आ सकता है. भारत के पास अभी भी श्रेयस अय्यर के अलावा रवि अश्विन और अक्षर पटेल हैं जो अपनी पारी को लम्बा खेल सकते हैं. फिलहाल जब तक 199 रनों की लीड नहीं ख़त्म हो जाती भारतीय बल्लेबाज़ कोई भी जोखिम नहीं लेना चाहेंगे।

Exit mobile version