Gujarat Chunavi Dangal: गुजरात की इस सींट पर पिछले 50 सालों से जीत के लिए तरस रही कांग्रेस

 
congress

Gujarat Chunavi Dangal: गुजरात मे होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए जहाँ सभी दल अपनी कमर कस चुके हैं वही अगर हम बात कांग्रेस की करे तो वह अपने 27 साल के वनवास को काट कर गुजरात मे अपनी वापसी चाहती है। कांग्रेस इस बार गुजरात मे खाम थ्योरी का पैतरा अपना कर जनता को लुभाना चाह रही है। वही अगर हम बात गुजरात की 182 विधानसभा सींट की करे तो इस सींट कांग्रेस के लिए बड़ी समस्या बनी हुई है। क्योंकि इस सींट पर कांग्रेस को पिछले 50 सालों से जीत हासिल नहीं हुई है। 

Read also: President Election 2022 India: दिल्ली प्रवास पर धामी,राष्ट्रपति उम्मीदवार मुर्मू के नामांकन में होंगे शामिल

गुजरात की विधानसभा एलिस ब्रिज एक ऐसी विधानसभा सींट है जहाँ पर कांग्रेस को पिछले 50 सालों से जीत नहीं हासिल हुई है। इस सींट पर आखिरी बार 1972 मे कांग्रेस ने अपनी जीत दर्ज की थी। इस विधानसभा का नाम एलिस ब्रिज अंगेजो के जमाने के बनाएं गए ब्रिज से पड़ा। वही इस विधानसभा का सबसे पुराना कॉलेज गुजरात कॉलेज है। वही इस विधानसभा सींट पर मतदान जातीय समीकरण के आधार पर नहीं अपितु धार्मिक समीकरण के आधार पर दिया जाता है। गुजरात की इस विधानसभा पर सबसे ज्यादा हिन्दू मतदान रहते हैं। जिंसमे शाह, ब्राह्मण, पटेल की बहुलता है।

गुजरात की इस विधानसभा को जीतने के लिए पिछले 50 साल से कांग्रेस संघर्ष कर रही है । लेकिन यहाँ का मतदाता कांग्रेस में रूचि नहीं जता रहा है। कांग्रेस यहाँ पर धर्म की राजनीति करती है लेकिन वह यहां के लोगो को उतना प्रभावित नहीं कर पाती है। इस विधानसभा के कुछ इलाको में मुस्लिम मतदाता है जो की कांग्रेस की ओर रुचि दिखाते हैं और इन्ही मुस्लिम मतदाताओं के बलबूते पर इस विधानसभा में कांग्रेस का दबदबा रहता है।

Read also: अजय लल्लू को मिला वफ़ादारी का इनाम, CWC के विशेष आमंत्रित सदस्य बने

गुजरात की एलिस ब्रिज पर भाजपा का पिछले 27 सालों से दबदबा है। अगर हम 2017 की बात करें तो इस सींट पर भाजपा के राकेश शाह को 85000 वोटो से जीत हासिल हुई। इस सींट पर भाजपा का प्रभावी दबदबा 2002 में बन गया क्योंकि इस समय इस विधानसभा सींट ने गुजरात दंगों की तपिश को झेला और भाजपा ने गुजरात दंगे को अपना मुद्दा बनाया जिसके बाद से भाजपा को यहां के लोग ज्यादा पसंद करते हैं।