Gujarat Chunavi Dangal: गुजरात में फिर गरजे केजरीवाल, भाजपाइयों को बताया अहंकारी

 
गुजरात में फिर गरजे केजरीवाल, भाजपाइयों को बताया अहंकारी 

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज दो दिन के गुजरात दौरे पर जामनगर पहुंचे यहां उन्होंने जमकर बीजेपी पर भड़ास निकाली। केजरीवाल ने भाजपाइयों को अहंकारी बताते हुए कहा कि यहाँ पर पिछले 27 वर्षों से यह पार्टी राज कर रही है लेकिन यहाँ के लोगों से इनका कोई लेना-देना नहीं है. केजरीवाल ने कहा, लोग 'लट्ठा' पीकर मरते हैं और कोई भी सरकारी नुमाइंदा पीड़ित परिवारों के घर नहीं जाता। हम दिल्ली से आकर उनके गम में शरीक हो सकते हैं तो यह लोग क्यों नहीं, क्योंकि इन लोगों को यहाँ की जनता से कोई मतलब नहीं है. केजरीवाल ने AAP एक बार फिर भाजपा और कांग्रेस का सबसे बेहतर विकल्प बताया।

केजरीवाल ने नकली शराब पीने से हुई मौतों का मुद्दा एकबार फिर उभरते हुए कहा कि अभी लठ्ठा कांड (गुजरात में नकली शराब को लट्ठा कहते हैं) हुआ. केजरीवाल ने पूछा कि गुजरात में तो शराबबंदी है फिर ये शराब कहां से आई? उन्होंने कहा कि यहाँ हर ब्रांड की शराब की होम डिलीवरी उपलब्ध है. आखिर ये शराब कहां से आ रही है ? AAP संयोजक ने आरोप लगाया कि इसमें भाजपा सरकार की मिलीभगत है, क्योंकि बिना सरकारी मिलीभगत के इतने बड़े पैमाने पर खुलेआम शराब बिक ही नहीं सकती. और अगर मिलीभगत नहीं है तो सरासर सरकार की नाकामी है.  

Read also: मुफ्त की रेवड़ियों के मुद्दे पर Varun Gandhi ने फिर अपनी ही सरकार को घेरा

केजरीवाल ने आज भी रेवड़ी कल्चर की बात छेड़ी, उन्होंने कहा कि मुफ्त रेवड़ियों की बड़ी चर्चा हो रही है. केजरीवाल ने सवाल किया दिल्ली में हमने शानदार स्कूल बनवाये, शिक्षा को फ्री कर दिया, इलाज को फ्री कर दिया, तो क्या इसे रेवड़ी बांटना कहा जायेगा। केजरीवाल ने कहा हम तो राष्ट्र निर्माण का काम कर रहे हैं. जब हम दिल्ली वाली योजनाएं गुजरात लाने की बात कहते हैं तो भाजपा परेशान हो उठती है, उसे राष्ट्र निर्माण की योजनाएं मुफ्त की रेवड़ियां नज़र आने लगती हैं. गरीब लोगों को अगर 300 यूनिट फ्री बिजली मिले तो इसमें बुराई क्या है, बिजली सस्ती मिले तो इसमें हर्ज़ क्या है.