Gujarat Chunavi Dangal: गुजरात चुनाव में एआईएमआईएम ने की सक्रिय एंट्री

 
Gujarat Vidhan Sabha Chunav

Gujarat Chunavi Dangal: गुजरात मे इस साल के अंत मे विधानसभा चुनाव होने को है। सभी राजनीतिक दल मैदान में उतर चुके हैं। भाजपा और कांग्रेस जनता को लुभाने के लिए नया नया पैतरा अपना रहे हैं। वही अगर हम बात एआईएमआईएम की करे तो अब उसने गुजरात की राजनीति में सक्रिय कदम रख दिया है। एआईएमआईएम प्रमुख असुदीन ओवैसी ने घोषणा की है कि वह गुजरात चुनाव में विपक्ष के विरुद्ध ताल ठोकेंगे। 

Read also: Gujarat Chunavi Dangal: क्या ज्ञानवापी बनेगी गुजरात मे भाजपा का हथियार

ओवैसी की इस घोषणा के बाद अब गुजरात मे चुनावी मुकाबला ज्यादा रोमांचक हो गया है। क्योंकि अभी तक जिस गुजरात मे कांग्रेस और भाजपा आपस मे भिड़ते थे वहां अब दो अन्य दल आम आदमी पार्टी और एआईएमआईएम भी मैदान में उतरेंगे। ओवैसी की ओर से घोषणा हुई है कि वह मुस्लिम बाहुल्य सींट से अपने प्रत्याशियों को मैदान में उतारेंगे। हालांकि उन्होंने अभी तक इस बात की घोषणा नहीं की है कि वह किस विधानसभा सींट से चुनावी मैदान में अपने प्रत्याशियों को मैदान में उतारेंगे और कितनी सींटो पर उनके प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे। 

लेकिन राजनीतिक विशेषज्ञयों का कहना है कि गुजरात मे ओवैसी के आने से सबसे ज्यादा नुकसान कांग्रेस को होगा और कांग्रेस के नुकसान से भाजपा फायदा उठाएगा। ओवैसी ने सबसे पहले अहमदाबाद और सूरत में अपने प्रत्याशी उतारे। लेकिन उन्हें सफलता प्राप्त नही हुई। लेकिन इस बार वह पूरे जोर शोर से मैदान में उतरे हैं। उनका कहना है कि गुजरात मे 10 फीसदीं मुस्लिम वोट बैंक है। 

Read also: Gujarat Chunavi Dangal: क्या माधव सिंह सोलंकी का पैतरा खत्म करेगा गुजरात मे कांग्रेस का वनवास?

वही 21 विधानसभा सींट ऐसी है जिसपर 20 फीसदीं मुस्लिम वोट बैंक है। वही 35 विधानसभा सींटो पर मुस्लिम आबादी 15 फीसदीं है। वही गुजरात के कच्छ, भुज, सूरत, अहमदाबाद, भरूच, बागरा गुजरात की ऐसी विधानसभा सींटें है जो की मुस्लिम बाहुल्य सींट है और इसे निर्णाक सींट माना जाता है। वही इस विधानसभा सींट से अगर ओवैसी अपने प्रत्याशियों को मैदान में उतारते हैं तो इससे कांग्रेस ओर भाजपा को सबसे अधिक नुकसान होगा।